इंडियन आर्मी कैसे ज्वाइन करें | इंडियन आर्मी ज्वाइन प्रक्रिया

कैसे होती है Indian Army में भर्ती?
क्या Qualification होनी चाहिए?
क्या होता है Physical Test में ?

इंडियन आर्मी भर्ती से जुड़ी सारी जानकारी मिलेगी आपको इस आर्टिकल में। नमस्कार दोस्तों, Via Hindi में आपका स्वागत है। इस पोस्ट में हम आर्मी ज्वाइन करने की पूरी प्रक्रिया पर बात करेंगे, शारीरिक परीक्षण में क्या-क्या करवाया जाता है, मेडिकल में क्या-क्या देखा जाता है, और आपके सारे प्रश्नो का जवाब।

इंडियन आर्मी भर्ती (Join Indian Army)

Indian Army Kaise Join Kare

भारतीय सेना साल में कम से कम एक बार सेना भर्ती केंद्र से संबंधित ज़िले में रैली भर्ती का आयोजन करती है, जिसकी जानकारी प्रत्येक ज़िले के युवकों को लोकल न्यूज़ पेपर तथा अन्य मीडिया माध्यमों में विज्ञापन देकर दे दी जाती है। इस विज्ञापन में भर्ती की दिनांक एवं जगह के साथ-साथ भर्ती में भाग लेने के लिए आवश्यक मापदंड भी दिए गए होते हैं।

विज्ञापन के आधार पर संबंधित ज़िले के इच्छुक एवं योग्य युवक Joinindianarmy.nic.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।

Document Required at the Rally Site.

रैली भर्ती के इस चरण में आवेदन करने वाले युवकों को डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए कहा जाता है। रैली भर्ती में जाने से पहले युवकों को चाहिए कि वे सभी आवश्यक डाक्यूमेंट्स एक फाइल में लगा लें, जिससे कि उन्हें भर्ती वाले दिन किसी तरह की असुविधा का सामना न करना पड़े।

भर्ती के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट्स(Required Documents)

  1. 10 वीं / 12 वीं / ग्रेजुएशन की मार्कशीट
  2. मूल निवास प्रमाण पत्र जिस में युवक की फोटो लगी हुई हो तथा जो राज्य सरकार / तहसीलदार या एसडीएम अधिकारी द्वारा सत्यापित हो।
  3. जाति प्रमाण पत्र जिसमें युवक की फोटोग्राफ लगी हुई हो तथा जो गांव के सरपंच द्वारा सत्यापित हो।
  4. धर्म प्रमाण पत्र ( Religion Certificate ) जो कि राज्य सरकार / तहसीलदार या एसडीएम अधिकारी द्वारा सत्यापित हो।
  5. चरित्र प्रमाण पत्र ( Character Certificate ) जिसे संबंधित युवक की स्कूल या कॉलेज द्वारा जारी किया गया हो। यह प्रमाण पत्र 6 महीने से अधिक पुराना नहीं होना चाहिए।
  6. चरित्र प्रमाण पत्र ( Character Certificate ) जिसमें युवक की फोटो लगी हुई हो तथा जिसे गांव के सरपंच या फिर पुलिस द्वारा जारी किया गया हो। यह प्रमाण पत्र 6 महीने से अधिक पुराना नहीं होना चाहिए।
  7. अविवाहित प्रमाण पत्र ( Unmarried Certificate ) जिस में युवक की फोटो लगी हुई हो तथा जिसे गांव के सरपंच या जिला प्रशासन द्वारा जारी किया गया हो। यह प्रमाण पत्र 6 महीने से अधिक पुराना नहीं होना चाहिए।
  8. संबंध प्रमाण पत्र ( Relationship Certificate ) – इस प्रमाण पत्र की आवश्यकता उन्हीं युवकों को पड़ती है जिनके पिता सेना में पहले से कार्यरत हो, जिनके पिता युद्ध में शहीद हो गए हो या फिर जिनके पिता सेना से सेवानिवृत्त हो गए हो।
  9. युवक को रैली भर्ती में जाते समय पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ भी लेकर जाने चाहिए, जिसमें युवक के दोनों कान अच्छी तरह से दिखाई देते हो।
  10. Sports Certificate – यदि किसी युवक के पास अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय या फिर ज़िला स्तरीय स्पोर्ट्स सर्टिफिकेट है तो उसे वह सर्टिफिकेट रैली भर्ती में अपने साथ लेकर जाना चाहिए।
  11. NCC A/B/C Certificate

नोट :- उपरोक्त सभी डाक्यूमेंट्स युवक को Original लेकर जाने चाहिए, साथ ही प्रत्येक डॉक्यूमेंट की एक-एक फोटो कॉपी, जिसे किसी स्कूल के प्रिंसिपल, हेडमास्टर या Gazetted Rank के ऑफिसर द्वारा सत्यापित किया गया हो, भी लेकर जानी होती है।

इंडियन आर्मी शारीरिक फिटनेस परीक्षा | Physical Fitness Test (PFT)

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद चयनित युवकों को सेना द्वारा फिजिकल फिटनेस टेस्ट के लिए भेज दिया जाता है जहाँ उनका शारीरिक माप तथा उनकी शारीरिक क्षमता देखी जाती है। फिजिकल फिटनेस टेस्ट के लिए सेना द्वारा 100 अंक निर्धारित किए गए हैं जिसमें 60 मार्क्स दौड़ के लिए तथा 40 मार्क्स पुल अप्स के लिए मिलते हैं।

  1. 1600 मीटर की दौड़
  2. पुल अप्स ( Pull Ups )
  3. बैलेंस वाँक ( Balance Walk )
  4. 9 फिट लम्बी कूद
  5. 1600 मीटर की दौड़ – 1600 मीटर की दौड़़ में युवकों को समय के हिसाब से अंक दिए जाते हैं, 5 मिनट 30 सेकंड में दौड़ पूरी करने वाले युवकों को सेना ग्रुप ए में रखती है जिसके लिए उन्हें 60 अंक दिए जाते हैं।

5 मिनट 30 सेकंड से लेकर 5 मिनट 45 सेकंड के अंतराल में दौड़ पूरी करने वाले युवकों को सेना ग्रुप बी में रखती है जिसके लिए उन्हें 48 अंक दिए जाते हैं।

5 मिनट 45 सेकंड से अधिक समय में दौड़ पूरी करने वाले युवकों को सेना द्वारा फेल कर दिया जाता है।

पहाड़ी इलाकों से आने वाले युवकों को दौड़ पूरी करने के लिए एक्स्ट्रा टाइम दिया जाता है। जो युवक के 5000 Feet से 9000 Feet की ऊंचाई वाले पहाड़ी क्षेत्रों से आते हैं उन्हें दौड़ में 30 सेकंड का एक्स्ट्रा टाइम मिलता है।

जो युवक 9000 Feet से 12000 Feet की ऊंचाई वाले पहाड़ी क्षेत्रों से आते हैं उन्हें दौड़ पूरी करने के लिए 120 सेकंड का एक्स्ट्रा टाइम मिलता है।

  1. पुल अप्स – फिजिकल फिटनेस टेस्ट के दूसरे चरण में दौड़ पूरी करने वाले युवकों से पुल अप्स लगवाए जाते हैं सेना द्वारा पुल अप्स के लिए कुल 40 अंक निर्धारित किए गए हैं जो पुल अप्स की संख्या के आधार पर दिए जाते हैं।

10 या उससे अधिक पुल अप्स लगाने वाले युवक को सेना द्वारा 40 अंक दिए जाते हैं, 9 पुल अप्स लगाने वाले युवक को 33 अंक मिलते हैं, 8 पुल अप्स लगाने वाले युवक को 27 अंक दिए जाते हैं, 7 पुल अप्स लगाने वाले युवक को 21 तथा 6 पुल अप्स लगाने वाले युवक को सेना द्वारा 16 अंक दिए जाते हैं।

  1. बैलेंस वाँक – फिजिकल फिटनेस टेस्ट के तीसरे चरण में युवकों को बैलेंस वाँक करनी होती है इसके लिए सेना द्वारा कोई अंक निर्धारित नहीं किया गया है, लेकिन इस चरण को पास करना ज़रूरी होता है।
  2. 9 Feet लम्बी कूद – इस चरण में युवकों को 9 Feet लंबी कूद लगाने के लिए कहा जाता है। सेना द्वारा लंबी कूद के लिए कोई अंक निर्धारित नहीं किया गया है, लेकिन इस चरण को भी पास करना ज़रूरी होता है।

इंडियन आर्मी मेडिकल (Indian Army Medical Examination)

जो युवक Physical Fitness Test के बाद सेना द्वारा चयन किए जाते हैं उनको Medical Examination के लिए भेज दिया जाता है।

  1. युवक शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत होना चाहिए।
  2. युवक के सीने में 5 सेंटीमीटर का फुलाव होना चाहिए।
  3. युवक की सुनने की क्षमता बहुत अच्छी होनी चाहिए।
  4. युवक की आई साइड 6/6 होनी चाहिए तथा कलर विजन CP – III होना चाहिए (जिसके अनुसार सफेद, लाल और हरे सिग्नल युवक अच्छी तरीक़ेे से पहचान और समझ सके)
  5. युवक को किसी तरह की बीमारियां जैसे Deformity of bones, hydrocele and varicocele or piles नहीं होनी चाहिए।

इंडियन आर्मी लिखित परीक्षा (Indian Army Written Test)

Medical Examination के बाद सेना द्वारा चयन किए हुए युवकों को लिखित परीक्षा के लिए बुलाया जाता है।

Merit list:- रैली भर्ती के उपरोक्त सभी चरण पूरे हो जाने के बाद आर्मी द्वारा एक मेरिट लिस्ट जारी की जाती है जिसमें सेना में भर्ती हुए युवकों का नाम दिया गया होता है।

अंत में चयनित युवकों को इंडियन आर्मी के अलग-अलग ट्रेनिंग सेंटर में भेज दिया जाता है जिसे पूरा करने के बाद चयनित युवक सैनिक कहलाता है।

1 thought on “इंडियन आर्मी कैसे ज्वाइन करें | इंडियन आर्मी ज्वाइन प्रक्रिया”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *