Site icon Via Hindi

संबंधवाचक सर्वनाम की परिभाषा एवं उदाहरण

Sambandh Vachak Sarvanam

Sambandh Vachak Sarvanam

संबंधवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं | Sambandh Vachak Sarvanam Kise Kahate Hain

जिन सर्वनाम शब्दों से किसी वाक्य में प्रयुक्त संज्ञा शब्दों अथवा सर्वनाम शब्दों के मध्य संबंध का बोध होता हो उन्हें संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं। संबंधवाचक सर्वनाम के अंतर्गत जो, जिसका, जिसके, जिसकी इत्यादि शब्द आते हैं।

जिस प्रकार संबंध कारक के लिंग एवं वचन का निर्धारण वाक्य में प्रयुक्त उस शब्द के अनुसार होता है जिससे संज्ञा अथवा सर्वनाम शब्द का संबंध बताया गया हो। उसी प्रकार संबंधवाचक सर्वनाम शब्दों के लिंग और वचन का निर्धारण भी वाक्य में प्रयुक्त उस शब्द के अनुसार होगा जिससे किसी संज्ञा अथवा सर्वनाम शब्द का संबंध बताया गया हो।

संबंध कारक के सभी अलग-अलग विभक्ति चिह्नों को अलग-अलग पुरुषवाचक सर्वनाम शब्दों के साथ जोड़ने पर बनने वाला शब्द संबंधवाचक सर्वनाम शब्द होता है।

जैसे:-

जिसकी लाठी उसकी भैंस।

उपरोक्त वाक्य में हम देख सकते हैं कि जिसकी-उसकी शब्द संबंधवाचक सर्वनाम शब्द हैं। इन दोनों शब्दों को ही इस संबंध कारक के विभक्ति चिन्ह ‘की’ को जोड़कर बनाया गया है। ‘जिसकी’ और ‘उसकी’ में मूल शब्द क्रमशः जिस और उस हैं।

अतः उपरोक्त वाक्य में जिसकी-उसकी संबंधवाचक सर्वनाम शब्द हैं और यह वाक्य संबंधवाचक सर्वनाम का उदाहरण है।

संबंधवाचक सर्वनाम के उदाहरण | Sambandh Vachak Sarvanam Ke Udaharan

उपरोक्त वाक्य में जो-सो शब्दों का प्रयोग दोनों वाक्यों के मध्य संबंध बताने के लिए किया गया है। इस वाक्य में ‘जो’ संबंध वाचक शब्द है और ‘सो’ नित्यसंबंधी या सह-संबंधवाचक शब्द है।

उपरोक्त वाक्य में आप देख सकते हैं कि जो-सो शब्दों के प्रयुक्त होने की वजह से दोनों वाक्यों के मध्य संबंध का बोध हो रहा है। अतः यह वाक्य संबंधवाचक सर्वनाम (Sambandh Vachak Sarvanam) का उदाहरण होगा।

उपरोक्त वाक्य में जो-सो शब्दों का प्रयोग दोनों वाक्यों के मध्य संबंध बताने के लिए किया गया है। इस वाक्य में ‘जो’ संबंध वाचक शब्द है और ‘सो’ सह-संबंधवाचक शब्द है।

उपरोक्त वाक्य में आप देख सकते हैं कि जो-सो शब्दों के प्रयुक्त होने की वजह से दोनों वाक्यों के मध्य संबंध का बोध हो रहा है। अतः यह वाक्य संबंधवाचक सर्वनाम (Sambandh Vachak Sarvanam) का उदाहरण होगा।

उपरोक्त वाक्य में संबंध सूचक शब्द जिसके और उसके हैं। इन दोनों शब्दों को संबंध कारक के विभक्ति चिह्न ‘के’ को जोड़कर बनाया गया है।

संबंधवाचक सर्वनाम की परिभाषा से हम जानते हैं कि जिन सर्वनाम शब्दों से संबंध का बोध होता है उन्हें संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं। अतः उपरोक्त वाक्य संबंधवाचक सर्वनाम (Sambandh Vachak Sarvanam) का उदाहरण है।

उपरोक्त वाक्य में संबंध सूचक शब्द जिसने और उसने हैं। इन दोनों शब्दों को संबंध कारक के विभक्ति चिह्न ‘ने’ को जोड़कर बनाया गया है।

संबंधवाचक सर्वनाम की परिभाषा से हम जानते हैं कि जिन सर्वनाम शब्दों से संबंध का बोध होता है उन्हें संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं। अतः उपरोक्त वाक्य संबंधवाचक सर्वनाम (Sambandh Vachak Sarvanam) का उदाहरण है।

उपरोक्त वाक्य में संबंध का बोध करवाने वाले शब्द उसको और सो हैं। संबंधवाचक सर्वनाम की परिभाषा से हम जानते हैं कि जिन सर्वनाम शब्दों से संबंध का बोध होता है उन्हें संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं। अतः उपरोक्त वाक्य संबंधवाचक सर्वनाम (Sambandh Vachak Sarvanam) का उदाहरण है।

उपरोक्त वाक्य में ‘जिसके’ और ‘वह’ शब्दों से संबंध का बोध हो रहा है। संबंधवाचक सर्वनाम की परिभाषा से हम जानते हैं कि जिन सर्वनाम शब्दों से संबंध का बोध होता है उन्हें संबंधवाचक सर्वनाम कहते हैं। अतः उपरोक्त वाक्य संबंधवाचक सर्वनाम (Sambandh Vachak Sarvanam) का उदाहरण है।

Other Posts Related to Hindi Vyakran

  1. संज्ञा
  2. सर्वनाम
  3. प्रत्यय
  4. उपसर्ग
  5. वाक्य
  6. शब्द-विचार
  7. कारक
  8. समास
  9. विशेषण
  10. विलोम शब्द
  11. पर्यायवाची शब्द
  12. तत्सम और तद्भव शब्द
  13. संधि और संधि-विच्छेद
  14. सम्बन्धबोधक अव्यय
  15. अयोगवाह
  16. हिंदी वर्णमाला
  17. वाक्यांश के लिए एक शब्द
  18. समुच्चयबोधक अव्यय
  19. विस्मयादिबोधक अव्यय
  20. जातिवाचक संज्ञा
  21. व्यक्ति वाचक संज्ञा
  22. प्रेरणार्थक क्रिया
  23. भाव वाचक संज्ञा
  24. सकर्मक क्रिया

 

Exit mobile version