विशेष्य की परिभाषा एवं उदाहरण

Visheshya

Visheshya | विशेष्य

इस लेख में हम विशेष्य (Visheshya) के बारे में विस्तार पूर्वक बता रहे हैं. हम सभी जानते हैं की किसी वाक्य में संज्ञा अथवा सर्वनाम की विशेषता बताने वाले शब्दों को विशेषण कहते हैं. किसी भी वाक्य में विशेषण जिन संज्ञा अथवा सर्वनाम शब्द की विशेषता बताता है उस संज्ञा अथवा सर्वनाम शब्द को विशेष्य (Visheshya) कहते हैं.

अतः विशेष्य (Visheshya) के बारे में विस्तार से जानने के लिए पूरे लेख को धैर्य पूर्वक पढ़ें।

विशेष्य किसे कहते हैं | Visheshya Kise Kahate Hain

विशेषण शब्द जिस संज्ञा या सर्वनाम शब्द की विशेषता बताता है, उसे विशेष्य कहते हैं। अतः संज्ञा या सर्वनाम शब्द ही विशेष्य कहलाता है. विशेष्य के साथ विशेषण का प्रयोग दो तरह से होता है.

  • संज्ञा के साथ – संज्ञा के साथ प्रयुक्त होने पर इसे विशेष्य विशेषण कहते हैं तथा इनका प्रयोग विशेष्य से पहले किया जाता है.
  • क्रिया के साथ – क्रिया के साथ प्रयुक्त होने पर इसे विधेय विशेषण कहते हैं तथा इनका प्रयोग क्रिया से पहले किया जाता है. विधेय विशेषण समानाधिकरण होता है.

विशेष्य के उदाहरण | Visheshya Ke Udaharan

  • चाय ज़्यादा मीठी है।
  • शंकरन पढ़ा लिखा इंसान है।
  • राधा सुंदर है।
  • कमलेश एक ईमानदार नेता है।
  • विशाल भ्रष्ट अफसर है।
  • अमित तेज़ दौड़ता है।
  • विजय बहादुर लड़का है।

उपरोक्त वाक्य में विजय नामक व्यक्ति के बारे में बताया गया है कि वह एक बहादुर लड़का है। इस वाक्य में विजय की विशेषता बताने वाला शब्द बहादुर है। अतः ‘बहादुर’ विशेषण होगा।

विशेष्य की परिभाषा के अनुसार ‘विशेषण शब्द जिस संज्ञा या सर्वनाम शब्द की विशेषता बताता है, उसे विशेष्य कहते हैं।’ उपरोक्त वाक्य में ‘विजय’ की विशेषता बताई जा रही है। अतः विजय विशेष्य होगा।

  • विनोद भोला-भाला आदमी है।

उपरोक्त वाक्य में विनोद नामक व्यक्ति के बारे में बताया गया है कि वह एक भोला-भाला आदमी है।

विशेष्य की परिभाषा से हम जानते हैं कि ‘किसी वाक्य में जिस संज्ञा या सर्वनाम शब्द की विशेषता बताई गई हो, उसे विशेष्य कहते हैं।’ अतः उपरोक्त वाक्य में विनोद विशेष्य होगा।

  • सविता सबसे लम्बी लड़की है।

उपरोक्त वाक्य में संज्ञा ‘सविता’ की विशेषता बताई जा रही है कि वह सबसे लम्बी लड़की है। अतः उपरोक्त में ‘सविता’ विशेष्य है।

  • राधा सुंदर है।

उपरोक्त वाक्य में राधा नामक लड़की के बारे में बताया गया है कि वह एक सुन्दर लड़की है। इस वाक्य में राधा की विशेषता बताने वाला शब्द सुन्दर है। अतः ‘सुंदर’ विशेषण होगा।

विशेष्य की परिभाषा के अनुसार ‘विशेषण शब्द जिस संज्ञा या सर्वनाम शब्द की विशेषता बताता है, उसे विशेष्य कहते हैं।’ उपरोक्त वाक्य में ‘राधा’ की विशेषता बताई जा रही है। अतः राधा विशेष्य (Visheshya) होगा।

  • कमलेश एक ईमानदार नेता है।

उपरोक्त वाक्य में कमलेश नामक व्यक्ति के बारे में बताया गया है कि वह एक ईमानदार नेता है।

विशेष्य की परिभाषा से हम जानते हैं कि ‘किसी वाक्य में जिस संज्ञा या सर्वनाम शब्द की विशेषता बताई गई हो, उसे विशेष्य कहते हैं।’ अतः उपरोक्त वाक्य में कमलेश विशेष्य (Visheshya) होगा।

FAQs

विशेष्य और विशेषण में क्या अंतर है?

विशेष्य और विशेषण में यह अंतर होता है की संज्ञा अथवा सर्वनाम की विशेषता बताने वाले शब्दों को विशेषण कहते हैं जबकि विशेषण जिसकी विशेषता बताता है उसे विशेष्य कहते हैं. अतः किसी वाक्य में संज्ञा अथवा सर्वनाम शब्द ही विशेष्य होता है.

विशेषण और विशेष्य के योग से कौन सा समास बनता?

विशेषण और विशेष्य के योग से कर्मधारय समास बनता है.

Other Posts Related to Hindi Vyakran

  1. संज्ञा
  2. सर्वनाम
  3. प्रत्यय
  4. उपसर्ग
  5. वाक्य
  6. शब्द-विचार
  7. कारक
  8. समास
  9. विशेषण
  10. विलोम शब्द
  11. पर्यायवाची शब्द
  12. तत्सम और तद्भव शब्द
  13. संधि और संधि-विच्छेद
  14. सम्बन्धबोधक अव्यय
  15. अयोगवाह
  16. हिंदी वर्णमाला
  17. वाक्यांश के लिए एक शब्द
  18. समुच्चयबोधक अव्यय
  19. विस्मयादिबोधक अव्यय
  20. जातिवाचक संज्ञा
  21. व्यक्ति वाचक संज्ञा
  22. प्रेरणार्थक क्रिया
  23. भाव वाचक संज्ञा
  24. सकर्मक क्रिया
Exit mobile version