निश्चयवाचक सर्वनाम की परिभाषा एवं उदाहरण

Nishchay Vachak Sarvanam

Nishchay Vachak Sarvanam

Nishchay Vachak Sarvanam
Nishchay Vachak Sarvanam

निश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं | Nishchay Vachak Sarvanam Kise Kahate Hain

जिन सर्वनाम शब्दों से किसी निश्चित व्यक्ति अथवा वस्तु की ओर निकटवर्ती अथवा दूरवर्ती संकेत का बोध होता है उन्हें निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं। निश्चयवाचक सर्वनाम के अंतर्गत यह, वह, इस, उस, ये, वे इत्यादि सर्वनाम शब्द आते हैं।

निश्चयवाचक सर्वनाम (Nishchay Vachak Sarvanam) में ‘यह’ सर्वनाम का प्रयोग किसी निकटवर्ती व्यक्ति अथवा वस्तु की ओर निश्चित संकेत करने के लिए किया जाता है तथा ‘वह’ सर्वनाम का प्रयोग किसी दूरवर्ती व्यक्ति अथवा वस्तु की ओर निश्चित संकेत करने के लिए किया जाता है। जैसे:-

यह सर्वनाम का प्रयोग संज्ञा अथवा संज्ञा वाक्यांश के स्थान पर निश्चय का बोध करवाने के लिए भी किया जाता है। जैसे:- इस उम्र में शादी करना, यह आपको शोभा नहीं देता। इस वाक्य में संज्ञा वाक्यांश के स्थान पर यह का प्रयोग किया गया है।

निश्चयवाचक सर्वनाम के उदाहरण | Nishchay Vachak Sarvanam Ke Udaharan

  • वह पैन मेरा नहीं है।
  • यह घर मेरे दादाजी ने बनवाया था।
  • वे सब आज पहुंच जाएंगे।
  • उस मटके में पानी नहीं है।
  • यह घड़ी खराब है।
  • यह भी तो रवि का ही साथी है।
  • यह कोई आज की बात नहीं है।

निश्चयवाचक सर्वनाम के उदाहरण व्याख्या सहित

  • यह किसका फ़ोन है?

उपरोक्त वाक्य में निकटवर्ती वस्तु की ओर संकेत करने के लिए ‘यह’ का प्रयोग किया गया है अतः यह वाक्य निश्चयवाचक सर्वनाम (Nishchay Vachak Sarvanam) का उदाहरण होगा।

  • वह किसका सामान है?

उपरोक्त वाक्य में दूरवर्ती वस्तु की ओर संकेत करने के लिए ‘वह’ सर्वनाम का प्रयोग किया गया है। अतः यह वाक्य निश्चयवाचक सर्वनाम (Nishchay Vachak Sarvanam) का उदाहरण होगा।

  • भीड़ ने एक बस में आग लगा दी; यह सब मैंने अपनी आंखों से देखा है।

उपरोक्त वाक्य में पहले कहे गए वाक्य के स्थान पर ‘यह’ का प्रयोग किया गया है। अतः यह सर्वनाम का प्रयोग पहले कहे गए वाक्य के स्थान पर भी किया जाता है। इसलिए यह वाक्य निश्चयवाचक सर्वनाम (Nishchay Vachak Sarvanam) का उदाहरण होगा।

  • अरविंद अब यह चाहता है कि मैं उससे माफी मांगू।

उपरोक्त वाक्य में बाद में कहे जाने वाले वाक्य के स्थान पर यह का प्रयोग किया गया है। अतः यह का प्रयोग बाद में कहीं जाने वाली बात के स्थान पर भी किया जाता है।

  • वह गाय है।

उपरोक्त वाक्य में वह सर्वनाम का प्रयोग गाय की ओर संकेत करने के लिए हुआ है। इस वाक्य में वह का प्रयोग होने से यह समझ में आता है कि गाय वक्ता से कुछ दूरी पर मौजूद है। अतः यह वाक्य निश्चयवाचक सर्वनाम (Nishchay Vachak Sarvanam) का उदाहरण है।

  • यह मेरा छोटा भाई है।
  • यह स्वेटर मेरी नहीं है।
  • ये बकरियाँ रामू की है।
  • यह खाना मैंने बनाया है।
  • यह गंगाजल है।

उपरोक्त वाक्यों में किसी निकटवर्ती व्यक्ति अथवा वस्तु का बोध करवाने के लिए यह और ये का प्रयोग किया गया है। इन वाक्यों से पता लगता है कि यह का प्रयोग एकवचन में तथा ये का प्रयोग बहुवचन में किया जाता है। अतः उपरोक्त वाक्य निश्चयवाचक सर्वनाम (Nishchay Vachak Sarvanam) के उदाहरण हैं।

  • वह रवि का सामान है।
  • वह चारपाई है।
  • वे मज़दूर हैं।

उपरोक्त वाक्यों में किसी दूरवर्ती व्यक्ति अथवा वस्तु का बोध करवाने के लिए वह और वे का प्रयोग किया गया है। इन वाक्यों से यह समझ में आता है कि वह का प्रयोग एकवचन में तथा वे का प्रयोग बहुवचन में किया जाता है। अतः उपरोक्त वाक्य निश्चयवाचक सर्वनाम (Nishchay Vachak Sarvanam) के उदाहरण हैं।

  • लोगों ने चोर को वह मारा कि बेचारा अधमरा हो गया।
  • यह तो आप मुझे शर्मिंदा कर रहे हैं।

उपरोक्त वाक्यों में ‘यह’ और ‘वह’ का प्रयोग क्रिया विशेषण के समान किया गया है। अतः यह और वह का प्रयोग क्रिया विशेषण के समान भी होता है।

निश्चयवाचक सर्वनाम के वाक्य

  • वह खाना खा रहा है।
  • यह फर्श गीला है।
  • ये मिठाइयांँ ख़राब हैं।
  • वे मिठाइयां ख़राब हैं।
  • यह भारत का नक्शा है।
  • वह भारत का मानचित्र है।
  • ये लकड़ियां गीली हैं।
  1. निश्चयवाचक सर्वनाम का प्रयोग कब किया जाता है?

    Nishchay Vachak Sarvanam

    निश्चयवाचक सर्वनाम का प्रयोग किसी निकटवर्ती अथवा दूरवर्ती व्यक्ति या वस्तु की और संकेत करने के लिए किया जाता है। निश्चयवाचक सर्वनाम के अंतर्गत यह और वह आते हैं।

  2. निश्चयवाचक सर्वनाम क्या है?

    Nishchay Vachak Sarvanam

    जिन सर्वनाम शब्दों से किसी निश्चित व्यक्ति अथवा वस्तु की ओर संकेत का बोध होता है उन्हें निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं। निश्चयवाचक सर्वनाम में निकट या दूर की किसी वस्तु या व्यक्ति की और संकेत का बोध होता है।

  3. सार्वनामिक विशेषण और निश्चयवाचक सर्वनाम में क्या अंतर है?

    Nishchay Vachak Sarvanam

    सार्वनामिक विशेषण किसी संज्ञा की विशेषता बताते हैं जबकि निश्चयवाचक सर्वनाम का प्रयोग किसी वाक्य में संज्ञा के स्थान पर किया जाता है। सार्वनामिक विशेषण का प्रयोग संज्ञा के साथ किया जाता है जबकि निश्चयवाचक सर्वनाम का प्रयोग संज्ञा के स्थान पर किया जाता है।

  4. निश्चयवाचक सर्वनाम के उदाहरण

    Nishchay Vachak Sarvanam

    वह खाना खा रहा है।
    यह फर्श गीला है।
    ये मिठाइयांँ ख़राब हैं।
    वे मिठाइयां ख़राब हैं।
    यह भारत का नक्शा है।
    वह भारत का मानचित्र है।
    ये लकड़ियां गीली हैं।

Other Posts Related to Hindi Vyakran

  1. संज्ञा
  2. सर्वनाम
  3. प्रत्यय
  4. उपसर्ग
  5. वाक्य
  6. शब्द-विचार
  7. कारक
  8. समास
  9. विशेषण
  10. विलोम शब्द
  11. पर्यायवाची शब्द
  12. तत्सम और तद्भव शब्द
  13. संधि और संधि-विच्छेद
  14. सम्बन्धबोधक अव्यय
  15. अयोगवाह
  16. हिंदी वर्णमाला
  17. वाक्यांश के लिए एक शब्द
  18. समुच्चयबोधक अव्यय
  19. विस्मयादिबोधक अव्यय
  20. जातिवाचक संज्ञा
  21. व्यक्ति वाचक संज्ञा
  22. प्रेरणार्थक क्रिया
  23. भाव वाचक संज्ञा
  24. सकर्मक क्रिया

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top