व्यक्ति वाचक संज्ञा से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी

Vyakti Vachak Sangya

Vyakti Vachak Sangya

इस लेख में हम संज्ञा के भेद व्यक्ति वाचक संज्ञा (Vyakti Vachak Sangya) के बारे में विस्तारपूर्वक बता रहे हैं। इस लेख में व्यक्तिवाचक संज्ञा की परिभाषा (Vyaktiwachak Sangya Definition in Hindi) और व्यक्ति वाचक संज्ञा के उदाहरणों (Vyaktiwachak Sangya Examples in Hindi) के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

संज्ञा की परिभाषा, प्रकार एवं उदाहरणों के बारे में जानने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें- संज्ञा की सम्पूर्ण जानकारी

Vyakti Vachak Sangya
Vyakti Vachak Sangya

Vyakti Vachak Sangya Kise Kahate Hain

किसी व्यक्ति विशेष, स्थान विशेष या वस्तु विशेष के नाम के घोतक शब्द को व्यक्तिवाचक संज्ञा कहते हैं। जैसे: कविता, दिल्ली, रामायण इत्यादि।

  • व्यक्ति विशेष – रवि, महेश, अक्षय, विकास, तुलसीदास, कालिदास, राम, सीता, कृष्ण, राधा, जयशंकर प्रसाद, जवाहरलाल नेहरु, नरेंद्र मोदी, शाहरुख खान इत्यादि।
  • स्थान विशेष – जयपुर, दिल्ली, एशिया, यूरोप, राजस्थान, कलकत्ता, मुम्बई, भारत, श्रीलंका, अमेरिका, चीन, बिहार, बीकानेर, पंजाब, हरियाणा, पुष्कर, नासिक, अमरनाथ इत्यादि।
  • वस्तु विशेष – ऋग्वेद, यजुर्वेद, सामवेद, रामायण, गीता, शिवपुराण इत्यादि।

व्यक्ति वाचक संज्ञा के उदाहरण – Vyakti Vachak Sangya Ke Udaharan

  • मोहन नाच रहा है।
  • रवि लेखक है।
  • कालिदास महान कवि थे।
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज विदेश जाएंगे।
  • लाल बहादुर शास्त्री ईमानदार प्रधानमंत्री थे।

उपरोक्त सभी उदाहरणों में मोहन, रवि, कालिदास, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, लाल बहादुर शास्त्री किसी एक व्यक्ति के नाम का बोध करवा रहे हैं, न कि अनेक व्यक्तियों के नाम का। अतः यहाँ व्यक्ति वाचक संज्ञा है।

  • जयपुर एक ख़ूबसूरत जगह है।
  • राजस्थान में पानी की कमी है।
  • पंजाब पाँच नदियों का प्रदेश है।

उपरोक्त उदाहरणों में जयपुर, राजस्थान और पंजाब किसी एक स्थान विशेष के नाम का बोध करवा रहे हैं, न कि अनेक जगहों के नाम का। अतः यहाँ व्यक्ति वाचक संज्ञा है।

  • रामायण एक पवित्र ग्रंथ है।
  • गीता में जीवन का सार है।

उपरोक्त उदाहरणों में रामायण एवं गीता एक-एक ग्रंथ के नाम हैं, अतः यहाँ व्यक्ति वाचक संज्ञा है।

व्यक्तिवाचक संज्ञा के उदाहरण (Vyakti Vachak Sangya Examples)

  • विराट कोहली दिग्गज बल्लेबाज हैं।
  • हितेश फुटबॉल का अच्छा खिलाड़ी है।
  • मोहन मेरा दोस्त है।
  • घनश्याम एक ईमानदार नेता है।
  • विजय के पास एक साईकिल है।
  • मुम्बई भारत की आर्थिक राजधानी है।
  • अमित शाह भारत के गृहमंत्री है।
  • शंकर के पास तीन बीघा जमीन है।
  • ताजमहल आगरा में स्थित है।
  • गंगा भारत की सबसे लंबी और पवित्र नदी है।

उपरोक्त सभी उदाहरणों में विराट कोहली, हितेश, मोहन, घनश्याम, विजय, मुम्बई, अमित शाह, शंकर, ताजमहल, गंगा भारत इत्यादि संज्ञा शब्द हैं।

व्यक्तिवाचक संज्ञा को कैसे पहचाने?

व्यक्तिवाचक संज्ञा को पहचानने के लिए यह ध्यान में रखना होता है की व्यक्तिवाचक संज्ञा हमेशा एकवचन होती है। बहुवचन होने पर व्यक्तिवाचक संज्ञा नहीं होती।

संज्ञा से सम्बंधित महत्वपूर्ण सवाल

हिमालय कौन सी संज्ञा है?

उत्तर – हिमालय व्यक्ति वाचक संज्ञा है क्यूँकि हिमालय एक विशेष पर्वत का नाम है.

इस लेख में आपने व्यक्तिवाचक संज्ञा किसे कहते हैं? और व्यक्तिवाचक संज्ञा के उदाहरण क्या हैं? के बारे बहुत ही सरल अंदाज में पढ़ा। यदि अभी भी व्यक्तिवाचक संज्ञा से सम्बंधित आपका कोई सवाल है तो आप अपना सवाल कॉमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

Other Posts Related to Hindi Vyakran

व्यंजन की परिभाषा, भेद और वर्गीकरण

  1. उत्क्षिप्त व्यंजन
  2. संघर्षहीन व्यंजन
  3. प्रकम्पित व्यंजन
  4. संघर्षी व्यंजन
  5. स्पर्श व्यंजन
  6. नासिक्य व्यंजन
  7. स्पर्श संघर्षी व्यंजन
  8. पार्श्विक व्यंजन

विराम चिह्न की परिभाषा, भेद और नियम

  1. योजक चिह्न
  2. अवतरण चिह्न
  3. अल्प विराम
  4. पूर्ण विराम चिह्न

संज्ञा की परिभाषा, भेद और उदाहरण

  1. भाववाचक संज्ञा की परिभाषा और उदाहरण
  2. जातिवाचक संज्ञा की परिभाषा और उदाहरण
  3. व्यक्तिवाचक संज्ञा की परिभाषा और उदाहरण

सर्वनाम की परिभाषा, भेद और उदाहरण

  1. संबंधवाचक सर्वनाम की परिभाषा एवं उदाहरण
  2. निजवाचक सर्वनाम की परिभाषा एवं उदाहरण
  3. प्रश्नवाचक सर्वनाम की परिभाषा एवं उदाहरण
  4. अनिश्चयवाचक सर्वनाम की परिभाषा एवं उदाहरण
  5. निश्चयवाचक सर्वनाम की परिभाषा एवं उदाहरण
  6. पुरुषवाचक सर्वनाम की परिभाषा, भेद और उदाहरण

समास की परिभाषा, भेद और उदाहरण

  1. अव्ययीभाव समास की परिभाषा, भेद एवं उदाहरण
  2. द्विगु समास की परिभाषा और उदाहरण
  3. कर्मधारय समास की परिभाषा, भेद और उदाहरण
  4. बहुव्रीहि समास की परिभाषा, भेद और उदाहरण
  5. द्वन्द्व समास की परिभाषा, भेद और उदाहरण
  6. तत्पुरुष समास की परिभाषा, भेद और उदाहरण

वाक्य की परिभाषा, भेद एवं उदहारण

  1. मिश्र वाक्य की परिभाषा एवं उदाहरण
  2. संयुक्त वाक्य की परिभाषा एवं उदाहरण
  3. साधारण वाक्य की परिभाषा एवं उदहारण

विशेषण की परिभाषा, भेद और उदाहरण

  1. परिमाणवाचक विशेषण की परिभाषा, भेद और उदाहरण
  2. संख्यावाचक विशेषण की परिभाषा, भेद और उदाहरण
  3. गुणवाचक विशेषण की परिभाषा और उदाहरण
  4. सार्वनामिक विशेषण की परिभाषा, भेद एवं उदाहरण
  5. विशेष्य की परिभाषा एवं उदाहरण
  6. प्रविशेषण की परिभाषा एवं उदाहरण

क्रिया की परिभाषा, भेद और उदाहरण

  1. सामान्य क्रिया की परिभाषा और उदाहरण
  2. पूर्वकालिक क्रिया की परिभाषा एवं उदाहरण
  3. नामधातु क्रिया की परिभाषा और उदाहरण
  4. संयुक्त क्रिया की परिभाषा, भेद और उदाहरण
  5. अकर्मक क्रिया की परिभाषा, भेद एवं उदाहरण
  6. प्रेरणार्थक क्रिया की परिभाषा, भेद और उदाहरण
  7. सकर्मक क्रिया की परिभाषा, भेद और उदाहरण